Wed. Mar 3rd, 2021

इंडिया सावधान न्यूज़

राष्ट्र की तरक्की में सहयोग

हिना हत्याकांड; दोस्त से प्रेमी सुमित बोला-अभी सांस ले रही है काट दे गला, आरोपी को शक था कई लोगों से हैं अवैध संबंध

1 min read

दिल्ली : हिना हत्याकांड; दोस्त से प्रेमी सुमित बोला-अभी सांस ले रही है काट दे गला, आरोपी को शक था कई लोगों से हैं अवैध संबंध

किशनगढ़ थाना पुलिस ने तरन्नुम उर्फ हिना(32) नामक महिला की हत्या की गुत्थी को 48 घंटे में ही सुलझाने दावा किया है। महिला के दोस्त सुमित कुमार (21) ने ही उसकी हत्या अपने दोस्तों से करवाई थी। इसके लिए दोस्तों को एक लाख रुपये देने के लिए कहा था।

साथ में ये भी कहा था कि महिला के घर में 15 लाख रुपये रखे हैं। हिना सुमित से प्यार करती थी और उस पर शादी करने का दवाब बना रही थी। हिना के पहले से शादीशुदा होने व उम्र ज्यादा होने के कारण सुमित उससे शादी नहीं करना चाहता था। साथ ही उसे संदेह था कि हिना के कई लोगों से अवैध संबंध है।

दक्षिण-पश्चिमी जिला डीसीपी इंगित प्रताप सिंह के अनुसार सुमित ने हिना को घायलावस्था में नौ फरवरी को फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया था। उसके गले में चाकू मारने का निशान था। अस्पताल में हिना पत्नी शाकिब खान उर्फ राजा को मृत घोषित कर दिया। अस्पताल से किशनगढ़ थाना पुलिस को सूचना दी गई थी।

मामला दर्जकर एसीपी वीकेपीएस यादव व किशनगढ़ थानाध्यक्ष राजेश मौर्या की देखरेख में एसआई कुलदीप तलन, एसआई एमएल मीणा व एसआई कुलदीप सिंह की टीम ने जांच शुरू की। राजेश मौर्या के कहने पर सुमित कुमार को पहले दिन ही हिरासत में ले लिया गया था।

आईए एक नज़र डालते हैं कि किस तरह साज़िश को अंजाम दिया गया । एक लाख रुपये व हिना के घर में 15 लाख कैश व काफी ज्वेलरी मिलने की बात सुनकर तीनों दोस्त हिना के हत्या करने को तैयार हो गए थे। अरूण ने रैकी की थी। वारदात वाले दिन हिना का पति शाकिब तुगलकाबाद चला गया था। शाकिब ने तुगलकाबाद में मकान लिया था और वह वहां काम करवा रहा था।

वारदात वाले दिन ये किशनगढ़ में पंजाबी ढ़ाबा के पास एकत्रित हुए। सभी ने वहां शराब पी। हिना के घर जाकर सुमित ने रवि के फोन कर बुलाया। तीनों हिना के घर में पहुंच गए। घर में जाते ही तीनों ने दिखावे के लिए सुमित को पीटना शुरू कर दिया था। इसके बाद अमित ने हिना की गर्दन पकड़ ली। पत्रकार इशाकत खान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *