Mon. Jan 18th, 2021

इंडिया सावधान न्यूज़

राष्ट्र की तरक्की में सहयोग

कपिल मिश्रा ने उमर खालिद के लिए मांगी फांसी, ट्विटर पर लोग बोले-आपके खिलाफ कब होगी कार्रवाई?

1 min read

दिल्ली दंगा मामले में पुलिस ने गैर कानूनी गतिविधि (निरोधक) कानून के तहत जेएनयू के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद को गिरफ्तार किया है। कोर्ट ने पुलिस को उमर खालिद की 10 दिन की कस्टडी दी है। उधर, उमर खालिद की गिरफ्तारी के बाद दिल्ली की सियासत फिर गरमा गई है। खासतौर पर बीजेपी नेता कपिल मिश्रा लोगों की निगाहों में हैं। पिछले कुछ घंटों से ट्विटर पर #kapil Mishra ट्रेंड कर रहा है। जहां कुछ यूजर्स दिल्ली दंगों के मद्देनजर कपिल मिश्रा के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं, तो कुछ यूजर्स उनके समर्थन में खड़े हैं।

दरअसल, जेएनयू के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद की गिफ्तारी के बाद कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर उमर खालिद समेत कई अन्य लोगों के खिलाफ फांसी की मांग की थी। तभी से ट्विटर पर कपिल मिश्रा टॉप ट्रेंड कर रहे हैं।

कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर कहा, ‘दिल्ली में उमर खालिद, ताहिर हुसैन, खालिद सैफी, सफूरा जरगर, अपूर्वानंद जैसे लोगों ने योजना बनाकर, तैयारी के साथ कत्लेआम किया ये 26/11 जैसा आतंकी हमला था, इन आतंकियों, हत्यारों को फांसी होनी चाहिए दिल्ली पुलिस को बधाई’

प्रशांत भूषण ने कपिल मिश्रा पर हमला बोला
प्रशांत भूषण ने उमर खालिद का एक वीडियो ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा ‘हम हिंसा का जवाब हिंसा से नहीं देंगे। अगर वह दंगा करआएंगे तो हम झंडा लहराएंगे। अगर वह गोली चलाएंगे तो हम संविधान को हाथ में उठाएंगे’। यह है उमर खालिद, जिसको दिल्ली दंगा करवाने के लिए गिरफ्तार किया है। कपिल मिश्रा जैसे लोग जिन्होंने साफ-साफ दंगा भड़काया उनको नहीं।

सोशल एक्टिविस्ट अशरफ हुसैन ने दिल्ली पुलिस समेत इन सबको घेरा
सोशल एक्टिविस्ट अशरफ हुसैन ने ट्वीट कर लिखा है ‘भड़काऊ भाषण देने वाले कपिल मिश्रा का कही नाम नही, JNU छात्रों पर हमला करने वाली कोमल शर्मा का नाम नही, जामिया में फायरिंग करने वाले गोपाल और शाहीनबाग में फायरिंग करने वाले कपिल का नाम नही, लाइव वीडियो कर रही नफ़रती रागिनी तिवारी का नाम नही। वाह दिल्ली पुलिस’

कपिल मिश्रा के खिलाफ गरमा गरम चर्चा
उमर खालिद की गिरफ्तारी के बाद कपिल मिश्रा के खिलाफ ट्विटर पर गरम-गरम चर्चा शुरू हो गई है। लोग ट्वीट कर मिश्रा की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। कुछ यूजर्स पुलिस की पक्षपात कार्रवाई पर भी उंगली उठा रहे हैं। वहीं, कुछ यूजर्स कपिल मिश्रा का दंगों के दौरान का भाषण ट्वविटर पर शेयर कर कपिल मिश्रा के खिलाफ कार्रवाई न करने की वजह सरकार से पूछ रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *