Sun. Nov 29th, 2020

इंडिया सावधान न्यूज़

राष्ट्र की तरक्की में सहयोग

महाराष्ट्र: रिपब्लिक टीवी के एडिटर अर्नब गोस्वामी गिरफ्तार, पुलिस पर लगाया मारपीट का आरोप रिपब्लिक टीवी के एडिटर अर्नब गोस्वामी

1 min read

महाराष्ट्र: रिपब्लिक टीवी के एडिटर अर्नब गोस्वामी गिरफ्तार, पुलिस पर लगाया मारपीट का आरोप
रिपब्लिक टीवी के एडिटर अर्नब गोस्वामी को महाराष्ट्र पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बताया गया है कि यह कार्रवाई 2018 के एक मामले में की गई है.

पिछले दिनों चर्चा में रहे पत्रकार अर्नब गोस्वामी से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आई है. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, रिपब्लिक टीवी के एडिटर अर्नब गोस्वामी को महाराष्ट्र पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बताया गया है कि यह कार्रवाई 2018 के एक मामले में की गई है. यह मामला पहले बंद हो गया था, जिसे अब फिर से खोला गया है. पुलिस के इस ऐक्शन को भारतीय जनता पार्टी की तरफ से प्रेस की आजादी पर हमला बताया जा रहा है. यहां राज्य की शिवसेना सरकार को निशाने पर लिया जा रहा है.

अर्नब को गिरफ्तार करने पुलिस उनके घर पहुंची थी. अर्नब ने पुलिस पर मारपीट का आरोप लगाया है. कहा गया है कि उनकी सास-ससुर के साथ-साथ बेटे और पत्नी से भी मारपीट की गई. गिरफ्तारी के बाद पुलिस वैन से गोस्वामी ने कहा कि उनके साथ मारपीट की गई. उनके बेटे को पीटा गया और उनके ससुराल पक्ष के लोगों के साथ बदसलूकी की गई. माना जा रहा है कि उन्हें रायगढ़ के अलीबाग ले जाया जाएगा.

गिरफ्तारी पर महाराष्ट्र सरकार को घेरा
सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी, बीजेपी नेता कीरीट सौम्या ने इसे प्रेस की आजादी पर हमला बताया है. जावड़ेकर ने लिखा, ‘मुंबई में प्रेस-पत्रकारिता पर जो हमला हुआ है वह निंदनीय है. यह इमरजेंसी की तरह ही महाराष्ट्र सरकार की कार्यवाही है. हम इसकी भर्त्सना करते हैं.’ एटिडर गिल्ड ने भी अर्नब की गिरफ्तारी पर विरोध जताया है. महाराष्ट्र सीएम से अपील की गई है कि मामले की जांच बिना किसी पक्षपात के हो.

संजय राउत बोले – यह बदले की कार्रवाई नहीं
लग रहे आरोपों पर शिवसेना का पक्ष भी आ गया है. संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस ने कानून का पालन कर ऐक्शन लिया है. राउत ने कहा, ‘पुलिस के पास सबूत हों तो किसी के भी खिलाफ ऐक्शन ले सकती है. ठाकरे सरकार बनने के बाद से किसी के खिलाफ बदले की कार्रवाई नहीं की गई.’

किस मामले में गिरफ्तार किए गए अर्नब गोस्वामी
जानकारी के मुताबिक, अर्नब को सुसाइड के लिए कथित रूप से उकसाने के लिए गिरफ्तार किया गया है. यह मामला साल 2018 का है. तब 53 साल के इंटिरियर डिजाइनर अन्वय नाइक और उनकी मां कुमुद नाइक ने सुसाइड कर लिया था. दोनों ने अलिबाग में सुसाइड किया था. अन्वय द्वारा लिखे सुसाइड नोट में कथित रूप से यह लिखा पाया गया था कि गोस्वामी और अन्य दो (फिरोज शेख और नितिश सारदा) ने उन्हें 5.40 करोड़ रुपये नहीं दिए, जिसकी वजह से उनकी आर्थिक स्थिति खराब हो गई थी. इस वर्ष मई में महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने आर्किटेक्ट अन्वय नाइक की बेटी अदन्या नाइक की नई शिकायत के आधार पर फिर से जांच का आदेश दिये जाने की घोषणा की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *